[fvplayer id=”1″]

[fvplayer id=”1″]

मंदिर के बारे में

floral-decor

भगवान चित्रगुप्त एक हिंदू भगवान हैं, जिन्हें पृथ्वी पर मनुष्यों के सभी कार्यों और कर्मों का पूरा व्यौरा रखने का काम भगवान ब्रह्मा ने सौंपा है, एवं भगवान चित्रगुप्त ही यह तय करते हैं, मृत्यु के पश्चात किसी जीव को पृथ्वी पर सम्पन्न किये गये उसके कर्मरूप के आधार पर उसे नर्क या स्वर्ग भेजना है अथवा पुनर्जन्म की योनि क्या होगी इसे भी श्री चित्रगुप्त ही निर्धारित करते हैं। भगवान श्री चित्रगुप्त, जो हर जीव- जन्तु के मन में चित्र की तरह गुप्त रहते हैं और ब्रह्मा द्वारा की गयी हज़ारों वर्षों की साधना के बाद उनकी सम्पूर्ण काया से जिनकी उत्पत्ति हुई है – वे भगवान श्री चित्रगुप्त के वंशज ही काया में स्थित उनकी उत्पत्ति की वजह से कायस्थ के नाम से जाने जाते हैं।

विशेष रूप से हमारे मंदिर की पूजा

floral-decor

सत्यनारायण स्वामी कथा

हिंदू धर्म में भगवान विष्णु की पूजा को ‘सत्यनारायण पूजा’ कहते हैं। सत्यनारायण दो शब्दों ‘सत्य’ और ‘नारायण’ का मेल है, सत्य का अर्थ है सत्य और नारायण का अर्थ होता है जो हर जगह पाया जाता हो।

श्री चित्रगुप्तेश्वर महादेव

भगवान शिव को रूद्र के नाम से भी जाना जाता है। पवित्र जल से शिवलिंग का स्नान कर उसकी पूजा को रुद्राभिषेक कहते हैं। ऐसा माना जाता है कि रुद्राभिषेक से भक्तों के जीवन की सभी परेशानियां और कठिनाइयां दूर हो जाती है।

आदि चित्रगुप्त अभिषेक

भगवान चित्रगुप्त हिन्दुओं के देवता हैं जिन्हें मनुष्यों के कर्मों का पूरा रिकॉर्ड रखने एवं उनके मृत्यु के पश्चात कर्मों के आधार पर स्वर्ग या नर्क तय करने का अधिकार काम सौंपा गया है।

महामृत्युंजय मंत्र पाठ

महामृत्युंजय मंत्र को रुद्र मंत्र के रूप में भी जाना जाता है। यह तीन शब्दों से बना एक मेल है, ‘महा’ यानि महान, ‘मृत्यु’ यानि जीवन का अंत एवं ‘जय’ मतलब विजय की प्राप्ति। इस मंत्र का जाप मनोवैज्ञानिक और शारीरिक रूप से स्वास्थ्य के लिए अनुकूल माना जाता है।

आपके जीवन की

आराधना

भगवान के साथ

एक मंदिर जो कई शताब्दियों से भारत के बिहार प्रांत की राजधानी पटना के विकास के रूप में गवाह रहा है, अपने प्राचीन गौरव को फिर से प्राप्त करने के लिए तैयार है। भगवान चित्रगुप्त को समर्पित, हिंदू भगवान जो मनुष्यों के सभी कार्यों को हिसाब-किताब रखतें हैं, यह पटना में गंगा तट के दक्षिणी छोर एवं महात्मा गाँधी सेतु, गायघाट से 1 किलोमीटर पूरब की ओर दीवान मुहल्ला पटना सिटी में स्थित है।

Are you having any doubts? Share all your questions here-

Our Upcoming Puja

ico-learning

Why DONATE ?

ico-ying-yang

Realize that every bitis important

Realize that every bit is important for someone. Donate a penny which will be beneficial for someone.

ico-stones

Bring meaning toyour life

If you are stuck in a problem, whether professionally or personally, a simple act of donating can sometimes reinvigorate your life.

ico-cog-wheel

Experience morehappiness

Donating can make a person feel better and a satisfying feeling of spending money in the right place.

floral-decor

Memories

Take a tour to our photo gallery for a glance at the events and pujas organized at AdiChitraguptMandir premises.

मुफ़्त दैनिक पंचांग, राशिफल और पूजा-अर्चना सम्बंधित जरुरी जानकारी सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए अभी सब्सक्राइब करें |

Subscribe to Our Panchang & Rashifal

For more information regarding our events, subscribe to our Facebook page.

TESTIMONIALS

Dainik Samarpan Yojna

Know More

CHITRANSH EKTA DIVAS

Know More

MANDIR SAMVIDHAN NIYAMABLI

Know More

CHITRAGUPT MAHOTSAV

Know More